Breaking News
Narendra Modi

नीतीश कुमार ने नए भारत और नए बिहार में बड़ी भूमिका निभाई है: PM Modi

नई दिल्ली: 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में NDA के चेहरे के तौर पर नीतीश कुमार के नाम का समर्थन किया. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार ने नए भारत और नए बिहार के लिए बड़ी भूमिका निभाई है. पीएम मोदी ने कहा कि बिहार कई सालों तक विकास के मामले में पीछे था. अपने भाषण में PM Modi ने कहा कि कुछ साल पहले जब बिहार के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की गई थी, तो उसमें बहुत फोकस राज्य के इंफ्रास्ट्रक्चर पर था. उन्होंने कहा, “एक समय था जब सड़क संपर्क, इंटरनेट कनेक्टिविटी जैसे विषयों पर बिहार में चर्चा नहीं की जाती थी. अपनी भौगोलिक परिस्थ्तियों के कारण बिहार को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. लेकिन नीतीश कुमार ने एक नए भारत, एक नए बिहार की दिशा में काम करके हम सबके उद्देश्य में बड़ी भूमिका निभाई.

पीएम मोदी ने कहा कि एक समय था जब बिहार में LPG गैस कनेक्शन होना बड़े संपन्न लोगों की निशानी होता था. एक-एक गैस कनेक्शन के लिए लोगों को सिफारिशें लगवानी पड़ती थीं. जिसके घर गैस होती थी, वो माना जाता था कि बहुत बड़े घर-परिवार से है, लेकिन बिहार में अब ये अवधारणा बदल चुकी है.

पीएम मोदी ने कहा कि अब देश और बिहार, उस दौर से बाहर निकल रहा है जिसमें एक पीढ़ी काम शुरू होते देखती थी और दूसरी पीढ़ी उसे पूरा होते हुए. नए भारत, नए बिहार की इसी पहचान, इसी कार्यसंस्कृति को हमें और मजबूत करना है. बिहार सहित पूर्वी भारत में ना तो सामर्थ्य की कमी है और ना ही प्रकृति ने यहां संसाधनों की कमी रखी है. बावजूद इसके बिहार और पूर्वी भारत विकास के मामले में दशकों तक पीछे ही रहा. इसकी बहुत सारी वजहें राजनीतिक थी, आर्थिक थीं, प्राथमिकताओं की थीं. उन्होंने कहा कि आज जब देश के अनेकों शहरों में CNG पहुंच रही है, PNG पहुंच रही है,तो बिहार के लोगों को पूर्वी भारत के लोगों को भी ये सुविधाएं उतनी ही आसानी से मिलनी चाहिए.  उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री ऊर्जा गंगा योजना के तहत पूर्वी भारत को पूर्वी समुद्री तट के पारादीप और पश्चिमी समुद्री तट के कांडला से जोड़ने का भागीरथ प्रयास शुरु हुआ. करीब 3 हजार किमी लंबी पाइपलाइन से 7 राज्यों को जोड़ा जा रहा है जिसमें बिहार का प्रमुख स्थान है.
अपने भाषण की शुरुआत उन्होंने रघुवंश सिंह को नमन करते हुए की. पीएम मोदी ने कहा कि मुझे कार्यक्रम के शुरुआत में मुझे एक दु:खद खबर आपके साथ साझा करना है. बिहार के दिग्गज नेता श्रीमान रघुवंश प्रसाद सिंह हमारे बीच नहीं रहे हैं. मैं उनको नमन करता हूं. रघुवंश बाबू के जाने से बिहार और देश की राजनीति में शून्य पैदा हुआ है. उन्होंने कहा कि रघुवंश सिंह जिन आदर्श को लेकर चले थे, जिनके साथ चले थे, उनके साथ चलना उनके लिए संभव नहीं रहा था. पीएम मोदी ने बताया कि बिहार के मुख्यमंत्री को रघुवंश सिंह ने अपनी एक विकास के कामों की सूची भेज दी. उस चिट्ठी में बिहार के लोगों की, बिहार के विकास की चिंता प्रकट होती है.
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बिहार में एलपीजी पाइपलाइन परियोजना के एक खंड और दो बॉटलिंग संयंत्रों का उद्घाटन किया. इन परियोजनाओं में पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर पाइपलाइन परियोजना का दुर्गापुर-बांका खंड और बांका और चंपारण जिले में दो एलपीजी बॉटलिंग संयंत्र शामिल हैं. प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि गैस पाइपलाइन परियोजना से बिहार में उर्वरक , बिजली और इस्पात क्षेत्र के उद्योगों को बढावा मिलेगा और सीएनजी आधारित स्वच्छ यातायात प्रणाली का भी लाभ होगा तथा रोजगार के नए अवसर पैदा होंगे.

About admin

Check Also

ट्रैक्टर-रैली

गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली का हम आदेश नहीं देंगे: सुप्रीम कोर्ट

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों द्वारा 26 …

Leave a Reply

Your email address will not be published.