Breaking News
Sting-Operation-cheating-business-is-being-conducted-from-the-office-of-chief-minister-housing-at-5-kd-marg

5 KD मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास के कार्यालय से ठगी का धंधा संचालित किया जा रहा है

5 कालीदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री आवास के कार्यालय से ठगी का धंधा संचालित किया जा रहा है। इसे सुनकर आप चैक जरुर गये होंगे लेकिन ये सच है। ऐसा इसलिए दावे के साथ कहा जा रहा है क्योंकि ठगी से सम्बंधित पर्याप्त सुबूत दृष्टांत टीवी (Sting Operation Video) के पास मौजूद…

उदित कुमार अवस्थी, मुदित शुक्ला , निरंजन चैहान ,मुदित मोहन चैरसिया , छोटे लाल चैरसिया, उदित कुमार श्रीवास्तव इन नामों को सुनकर आपको ये तो जरुर लग रहा होगा कि ये 5 अलग अलग लोग है लेकिन आपकी इस गलतफहमी से पर्दा हटा दें क्योंकि 5 नहीं बल्कि एक ही व्यक्ति है जो अपने गलत मकसद को अंजाम देने के लिए इन अलग अलग नामों का इस्तेमाल करता है। और सुनिये इससे भी ज्यादा चैकाने वाली यह है कि ये आदमी मुख्यमंत्री आवास में स्वयं को आॅडिट आफिसर बताता है , और हैरान करने वाली बात यह है ये केवल अपने को आफिसर बताता ही नहीं है बल्कि कुछ लोगों से मुख्यमंत्री आवास में मौजूद कार्यालय में मिलता भी है। कुल मिलाकर अगर देखा जाये तो कहीं ना कहीं इसके तार मुख्यमंत्री आवास से अवश्य जुड़े है, ऐसा लगता है। (Sting Operation Video)

Video Part 2: आज़ाद भारत में क्रूर खाकी का तांडव | Drishtant TV

Viral Audio: आपके बाद मेरा क्या होगा पापा ? तुम सब जहर खा कर मर जाना

Video: जरायम की झील…..

इस व्यक्ति ने लोगों को सरकारी पद पर होने का ऐसा दावा दिखाया कि अधिक से अधिक पैसे की मांग के लिए ना सिर्फ फर्जी ओएमआर शीट भरवाई बल्कि एडमिट कार्ड से लेकर ज्वाइनिंग लेटर तक दे दिया। और फिर वही हुआ जो होता है। ज्वाइनिंग के लिए आगरा बुलवाकर वहां बाकी पैसे लेकर होटल में छोड़कर भाग जाता है। (Sting Operation Video)

इस पूरे खुलासे में एक ओर पहलू सामने आया जो सनसनी फैला देने वाला हैं। लखनऊ पारा क्षेत्र निवासी वंदना चैरसिया ने इस व्यक्ति पर गंभीर बलात्कार, ब्लैकमेेलिंग, जालसाजी जैसे गंभीर आरोप लगाये है। इतना ही नहीं इन्होंने ठगी में प्रकरण उनके बैंक अकाउन्ट से लेकर सिम के गलत इस्तेमाल की भी बात सामने लायी है। (Sting Operation Video)

कुल मिलाकर राजभवन से लेकर मुख्यमंत्री एवं थानों, आला अधिकारियों तक ये प्रकरण पहुंचाया जा चुका है लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है. बाकी मामले की तहे कुछ भी हो लेकिन ये तो तय है कि उदित कुमार नाम का व्यक्ति एक बड़ा ठग है जिसने ठगी और जालसाजी के बड़े प्रयास किए है। और यदि ये वाकई में सरकारी कर्मचारी है तो इसने अपने पद और पहुंच का गलत इस्तेमाल किया है।
अब देखना ये है कि ये ठग को कब पुलिस के हत्थे चढ़ता है। (Sting Operation Video)

About admin

Check Also

up-fir-minister

उत्तर प्रदेश: मंडलायुक्त कार्रवाई लिखते हैं और यूपी के मंत्री FIR वापस करवाने का लेटर

ये मामला योगी के उत्तर प्रदेश का है। जहाँ एक मंत्री जी कथित भ्रष्टाचारी पूर्व …