Breaking News
blank

बड़ा फैसला: हिजाब होगा मुस्लिम महिला पुलिसकर्मियों का नया यूनिफॉर्म

न्यूजीलैंड पुलिस ने बड़ा फैसला लेते हुए यूनिफॉर्म में हिजाब को अनुमति दे दी है। कॉन्स्टेबल जीना अली न्यूजीलैंड पुलिस की पहली कर्मचारी बन गई हैं जिन्होंने यूनिफॉर्म के तौर पर विशेष तरीके से तैयार किया गया हिजाब पहना। यह कदम मुस्लिम महिलाओं को बल में भर्ती होने को लेकर उत्साहित करने के लिए लिया गया है।
जीना अली (30) पिछले साल हुए क्राइस्ट चर्च आतंकी हमले के बाद मुस्लिम समुदाय की मदद करने के लिए पुलिस में शामिल हुई थीं। न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों में हुए इन आतंकी हमलों में 51 लोगों मारे गए थे। इस सप्ताह वह न केवल पुलिस अधिकारी बल्कि, यूनिफॉर्म में हिजाब पहनने वाली पहली महिला भी बन जाएंगी।
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जीना ने इस कपड़े को डिजाइन करने के लिए पुलिस के साथ काम किया। यह उनकी नई भूमिका के लिए कार्यात्मक भी है और धर्म को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। जीना अली भी मानती हैं कि यह कदम और महिलाओं को पुलिस बल में शामिल होने के लिए उत्साहित करेगा।
जीना ने कहा, न्यूजीलैंड पुलिस यूनिफॉर्म हिजाब पहन कर बाहर जाना बहुत अच्छा लगता है क्योंकि मैं इसकी डिजाइन प्रक्रिया में शामिल थी। उन्होंने कहा, मुझे अपने समुदाय का, खासकर महिलाओं का, प्रतिनिधित्व करके गर्व का अनुभव होता है। फिजी में जन्मी जीना बचपन में ही परिवार के साथ न्यूजीलैंड आ गई थीं।
उन्होंने न्यूजीलैंड पुलिस की सराहना करते हुए कहा, ‘पुलिस की ओर से जारी यूनिफॉर्म में हिजाब होने का मतलब है कि वो महिलाएं जिन्होंने पहले पुलिस में शामिल होने का विचार भी नहीं किया था, अब वह इसके लिए आगे आ सकती हैं। पुलिस ने जिस तरह मेरे धर्म और मेरी संस्कृति का सम्मान किया है वह बेहद शानदार है’।
जीना ने कहा, ‘हमें समुदाय की मदद करने के लिए और मुस्लिम महिलाओं की जरूरत है। इनमें से अधिकांश महिलाएं पुलिस से बात करने से भी डरती हैं और अगर कोई व्यक्ति उनसे बात करने आए तो संभवत: वह दरवाजा भी बंद कर देंगी। अगर हम और महिलाओं को जोड़ सकें तो हम अपराधों में भी कमी ला सकते हैं’।

About admin

Check Also

blank

व्हाट्सप्प चैट लीक होने के बाद पार्थ दासगुप्ता की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

टीआरपी धोखाधड़ी मामले में आरोपी ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) के पूर्व सीईओ पार्थ दासगुप्ता …